अमित शाह का नाम तीन मंत्रालयों के लिए चर्चा में

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नतीजों से पहले ही भाजपा मुख्यालय में हुई मंत्रिपरिषद की फेयरवेल बैठक में नई कैबिनेट के गठन में 50-60 फीसदी बदलाव के संकेत दे चुके थे। अब सभी ये जानना चाहते हैं कि मोदी के साथ उन 6 पदों पर कौन आएंगे जो सबसे महत्वपूर्ण हैं। इनमें गृह, वित्त, रक्षा और विदेश मंत्री के अलावा भाजपा संगठन के अध्यक्ष और लोकसभा स्पीकर का पद शामिल है।

रक्षा मंत्री:
इस विभाग के लिए अमित शाह और राजनाथ सिंह के नाम पर विचार हो रहा है। राजनाथ गृह मंत्री के रूप में आंतरिक सुरक्षा की बारीकियां समझ चुके हैं। चूंकि उनको सीसीएस (सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी) में बनाए रखना है, इसलिए गृह विभाग उनसे नहीं लिया जा सकता। वहीं, रक्षा विभाग में आने की वजह से शाह को संगठन के काम पर ध्यान देने का समय मिलेगा, जो इस समय उनके लिए बेहद जरूरी है।

वित्त मंत्री:
पीयूष गोयल प्रबल दावेदार हैं। उन्होंने अंतरिम बजट भी पेश किया था। वित्त विभाग संभालते रहे हैं। गोयल को मोदी-शाह का सबसे भरोसेमंद माना जाता है। चर्चा यह भी है कि खुद अमित शाह वित्त मंत्रालय का रुख कर सकते हैं, क्योंकि सरकार की प्राथमिकता अब आर्थिक मोर्चों पर सफलता पाना है। इसके लिए वे जिम्मेदार नाम हैं। इस विभाग के लिए नितिन गडकरी के नाम की भी चर्चा है।

गृह मंत्री:
राजनाथ सिंह वरिष्ठता के कारण इस मंत्रालय में बने रह सकते हैं। उनकी संघ के शीर्ष नेताओं से अनौपचारिक चर्चा भी हो चुकी है। इस विभाग के लिए अमित शाह के नाम की भी चर्चा है, लेकिन शाह की पसंद ऐसे मंत्रालय की रहती है जो सीधे जनता से जुड़ा हो। उनके करीबी बताते हैं, “शाह जब गुजरात में गृह राज्यमंत्री थे तब भी उन्होंने मोदी से कहा था कि उन्हें ग्रामीण विकास मंत्रालय दिया जाए।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *