‘जय श्री राम’ का नारा लगाने के लिए किया मजबूर – दिल्ली गए डॉक्टर का आरोप

पुणे: शहर के प्रसिद्ध स्त्री रोग विशेषज्ञ और लेखक डॉ. अरुण गद्रे ने आरोप लगाया है कि दिल्ली के कनॉट प्लेस में उन्हें कुछ लोगों ने ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने के लिए मजबूर किया। इतना ही नहीं, उन लोगों ने डॉक्टर से धर्म भी पूछा। घटना 26 मई सुबह की है। डॉक्टर का कहना है कि किसी तरह की मारपीट नहीं होने के कारण केस दर्ज नहीं करवाया। उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम के बारे में एक नजदीकी मित्र को बताया है।

डॉ. अरुण गद्रे

यह है डॉ. गद्रे का आरोप:

बकौल डॉ. गद्रे, ‘उत्तरप्रदेश के बिजनौर में इंडियन मेडिकल एसोशिएशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में लेक्चर देना था। इस वजह से जंतर-मंतर के समीप वाईएमसीए में ठहरे थे। जब सुबह मॉर्निंग वाॅक पर निकले तो कनॉट प्लेस में स्थित हनुमान मंदिर के पास पांच-छह युवकों के एक समूह ने उन्हें घेर लिया और उनसे उनका धर्म पूछा। यही नहीं, उन्हें ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने के लिए भी मजबूर किया। डॉ. गद्रे की कुछ ही समय पहले बायपास सर्जरी हुई थी। वे इस घटना से पूरी तरह सहम गए।’

इसलिए नहीं दर्ज करवाया केस:

सोमवार को पुणे पहुंचने के बाद डॉ. गद्रे ने इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए इसे ‘तुच्छ’ बताया। कहा- मुझे शारीरिक रूप से किसी तरह का कष्ट नहीं पहुंचाया गया। मुझे लगा यह छोटी सी बात है। इसलिए मैंने पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं करवाई। मैं सभी से आग्रह करता हूं कि वे ऐसी घटनाओं को ज्यादा महत्व न दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *